हिन्दू धर्म में त्रिदेवों की कल्पना की गई है।

मान्यता है कि यही त्रिदेव विश्व के रचयिता, संचालक और पालक हैं।

त्रिदेवों में भगवान शिव को संहारक माना गया है।

शिवजी को उनके भोले स्वभाव के कारण भोलेनाथ भी कहा जाता है।

कहा जाता है

कि शिवजी की आराधना करने वाले जातक मृत्यु का भय भी नहीं सताता।

Designed By Withs Technosolutions